जायदाद के चक्कर में की हत्या

राजधानी लखनऊ से सटे जिले बाराबंकी के लक्षबर बजहा गांव में डबल मर्डर हआ है । गुरुवार रात यहां दंपती व उनके तीन बेटों पर बदमाशों ने धारदार हथियार से हमला किया और मौके से फरार हो गए। इस हमले में महिला व उसके एक बेटे की मौके पर मौत हो गई, जबकि पति व दो बेटे घायल हैं। उन्हें इलाज के लिए लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। पुलिस का मानना है कि हमलावर बेहद करीबी थे। वारदात स्थल से शराब के कई पौवे मिले हैं। आशंका है कि शराब पिलाने के बाद इस वारदात को अंजाम दिया गया। हमलावरों ने महिला की हत्या के बाद दोनों आंखें निकाली ली थी। गुरुदीन रावत पुत्र रामसुचित की पहली पत्नी की ससुराल लुच्याभार में थी। पत्नी की मौत के बाद उसे ससुराल की करीब साढ़े तीन बीघा जमीन भी मिली थी। जिसके के कारण वह इसी गांव में रहने लगा। इसके बाद गुरुदीन ने विवाहित महिला कविता को भगाकर लाया और उसी के साथ गांव मे रहकर गुजर बसर कर रहा था।

गुरुवार को गुरुदीन के साथ रहने वाला भतीजा प्रदुम्न बारात से वापस करीब रात 11 बजे लौटा तो घर का नजारा देख दंग रह गया। गुरुदीन उसकी पत्नी कविता के साथ सभी बच्चे, खून से लथपथ पड़े थे। सूचना पर पुलिस पहुंची तो कविता व उसका पुत्र शुभम (6) की मौत हो चुकी थी। वही गुरुदीन उसके दो बेटे सिद्धांत (2) व तीन महीने का बेटा अमन काफी गंभीर था। पुलिस ने तीनो को लखनऊ ट्रामा सेंटर भेजा।

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर सतीश कुमार ने बताया कि प्राथमिक जानकारी में पता चला है कि गुरुवार रात महिला के परिवार से आए चार लोग घर के अंदर शराब पी रहे थे। शराब पीने के बाद इन लोगों के बीच काफी मारपीट हुई। इस घटना में घर के अंदर मौजूद महिला और पहली पत्नी के बेटे की मौत हो गई। जबकि तीन लोग घायल हो गए। वारदात की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पति और दो बच्चों को अस्पताल पहुंचाया। पुलिस की पूछताछ जारी है, जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *