भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) आई दलितों के समर्थन में

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के प्रदेश सचिव राजेंद्र सिंह नेगी ने मसूरी में पत्रकारों से वार्ता की। उन्होंने टिहरी जनपद के नैनबाग के कोट गांव में दलित युवक की हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा अपने कुछ साथियों के साथ दलित युवक के गांव गए और वहां पर दोनों पक्षों के परिवारों से वार्ता की और पाया कि उस गांव में छुआछूत जैसी प्रथाएं आज भी कायम है।

उन्होंने शादी समारोह में हुए हमले के विवरण में कहा कि दलित युवक की पिटाई के दौरान एक दलित व्यक्ति गब्बू शाह बीच बचाव कर रहा था वह अरोपियों ने उसकी भी जमकर पिटाई की थी जिसके बाद गब्बू शाह पास के पुलिस स्टेशन आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट करने के लिए गया था परंतु उसका आज तक कुछ अतापता नही है। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस निष्पक्ष रुप से जांच कर रही है तो गब्बू शाह को सबके सामने प्रस्तुत करें और उसके बयान दर्ज करे।

उन्होंने पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि पीड़ित परिवार की ओर से कहा जा रहा है कि इस घटना में पकड़े गए आरोपियों के अलावा 4 से 5 लोग और भी थे। जिनके खिलाफ पुलिस किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। जबकि उनके द्वारा उन लोगों के खिलाफ भी कई सबूत दिए जा चुके हैं। ऐसे में उन्होंने कहा कि अगर पुलिस दलित परिवार के केस में किसी प्रकार की लापरवाही बढ़ती है तो सीपीआई(एम) सरकार और पुलिस के खिलाफ सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होगी। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार काफी गरीब है और उनके पास जीवन यापन के लिए भी पर्याप्त पैसा नहीं है ऐसे में इस केस को लेकर उनका जो भी खर्चा आएगा उसका सीपीआईएम वहन करेगी और उनको निशुल्क कानूनी सेवा प्रदान करेगी ।

उन्होंने राज्य की त्रिवेंद्र रावत सरकार पर जमकर हमला बोला उन्होंने कहा कि यह सरकार स्वर्णों की मानसिकता के अनुसार चल रही है। ऐसे में दलितों को न्याय मिलने की उम्मीद बहुत कम है उन्होंने कहा कि अगर दलित परिवार को न्याय नहीं मिला तो सीपीआई(एम) पूरे उत्तराखंड में प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर आंदोलन करेगी। वहीं उन्होने भाजपा के विधायक खजानदास और भाजपा नेता नारायण सिंह राणा को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उनको यह घटना छोटी घटना लग रही हैं क्योकि यह सभी लोग स्वर्णो पर राजनीति कर रहे है जो दुर्भाग्यपूर्ण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *