चक्रवाती तूफान तितली का कहर, 8 की मौत-अगले 12 घंटे बहुत महत्वपूर्ण

हैदराबाद: भीषण चक्रवाती तूफान तितली गुुुरूवार तडक़े उत्तर आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडि़शा के तट से गुजरता हुआ दक्षिणपूर्व गोलापार की तरफ चला गया। बंगाल की ओर बढ़ते हुए ओडिशा के गोपालपुर में आए समुद्री तूफान की चपेट में मछुआरों की एक नाव आ गई। नाव में सवार पांच मछुआरों को बचा लिया गया है। इसी बीच तूफान से आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में 8 लोगों की मौत हो जाने की खबर है। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि सरकार और प्रशासन अलर्ट पर हैं। वक्त की जरूरत है कि सभी लोग आगे आएं। उन्हें विश्वास है कि सभी के सपॉर्ट से इस आपदा से बेहतर तरीके से निपटा जा सकेगा।

मौसम विभाग सूत्रों ने बताया कि चक्रवाती तूूफान पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी से उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ा और श्रीकाकुलम जिले में पालासा के समीप उत्तरी अक्षांश 18़ 8 तथा 84़ 5 पूर्वी देशांतर के नजदीक से उत्तर आंध्रप्रदेश तथा दक्षिण ओडि़शा तटों से गुजर गया। इस दौरान सुबह साढ़े चार बजे से साढ़े पांच बजे के बीच हवाओं की अधिकतम रफ्तार140 किलोमीटर प्रतिघंटे से लेकर 165 किलोमीटर प्रतिघंटा रही। बुलेटिन में कहा गया है कि इसके आज शाम अथवा कल सुबह तक एक गहरे दबाव के क्षेत्र में तब्दील होकर कमजोर पडऩे की उम्मीद है। ओडिशा के मौसम विभाग ने अगले 12 घंटों तक तूफानी हवाओं की चेतावनी जारी की है। एहतियात के तौर पर ओडिशा से तीन लाख लोगों को तटीय इलाकों से हटाकर सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *